Headlines अन्य अपराध टैकनोलजी टॉप न्यूज़ फोटो-गैलरी बिजनेस बिहार ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति राष्ट्रीय

सरकार की ओर से विधायक व विधानपरिषद के वेतन में कटौती का कांग्रेस ने किया समर्थन, कुछ मुद्दे पर सरकार से सवाल ?…

कोरोना को लेकर बिहार सरकार की ओर से आज ली गई कुछ फैसलों का बिहार कांग्रेस ने समर्थन किया है… कांग्रेस MLC प्रेम चंद्र मिश्रा ने बिहार सरकार के कैबिनेट के द्वारा कोरोना उन्मूलन को लेकर विधायकों-विधान पार्षदों के वेतन में कटौती संबंधी निर्णय का  समर्थन किया हैं तथा उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों का प्रथम दायित्व बनता है कि आपदा के घड़ी में आगे बढ़कर अपना योगदान दें।

MLA/MLC ने पहले भी अपना एक महीने का वेतन और ऐच्छिक कोष से 50 लाख रुपये का योगदान दिया है। प्रेम चंद्र मिश्रा ने आशा जताया है किराज्य के लोगों को कोरोना संकट से बचाने हेतु अब बड़े पदों पर बैठे IAS, IPS अधिकारियों को भी खुद से आगे बढ़कर अपना सहयोग देना चाहिए।

मुख्यमंत्री हमेशा कहते रहते हैं कि राज्य के खजाने पे पहला हक आपदा पीड़ितों का होता है लेकिन यहां सरकार अपना खजाना खोलने के बजाय mla, mlc के हीं द्वारा दिये पैसों से कोरोना उन्मूलन करना चाहते हैं? जनप्रतिनिधियों की भावना है कि उनके गृह जिले और निर्वाचन क्षेत्र में इन पैसों का सदुपयोग कोरोना उन्मूलन हेतु की जाए।
कांग्रेस को यह शिकायत मिली है कि मुफ्त अनाज देने की मुख्यमंत्री की घोषणा धरातल पे कहीं दिखाई नही दे रही है और ना हीं प्रयाप्त संख्या में अभी तक पीपीई किट, जांच किट, सर्जिकल मास्क और वेंटिलेटर, icu बेड का इंतेजाम हो सका है जो चिंता का विषय है।आखिर सरकार धन का सदुपयोग क्यों नही कर रही है??सरकार को अपनी फिजूलखर्ची पर भी रोक लगानी चाहिए तथा संयमित खर्च को ध्यान में रखते हुए अनावश्यक विज्ञापनों से भी परहेज करना चाहिए।
कांग्रेस यह जानना चाहती है कि जब सरकार का कार्यकाल मात्र 5-6 महीने शेष बचे हैं तब वो किस अधिकार से 1 साल के लिए वेतन कटौती का निर्णय लिया है?

Related posts

KMS Knowledge Services की अनोखी पहल, बच्चों के लिए Digital Platform के जरिए 5 जून को Debate कार्यक्रम…

Bihar Now

युद्ध स्तर पर जारी है अभाविप का सदस्यता अभियान

Bihar Now

नई दिल्ली स्थित बिहार भवन के नियंत्रण कक्ष से लाखों व्यक्तियों की समस्याओं पर की गई कार्रवाई…

Bihar Now