Headlines अन्य जीवन शैली टैकनोलजी टॉप न्यूज़ फोटो-गैलरी बिहार बॉलीवुड ब्रेकिंग न्यूज़ मनोरंजन राजनीति राष्ट्रीय

सिनेमा इंडस्ट्री के दो दिग्गज अभिनेताओं को मैथिली फ़िल्म अकादमी की श्रद्धांजलि…

ऋषि और इरफान का असमय निधन कला जगत के लिए अपूरणीय क्षति*

दरभंगा: कोरोना संकट के बीच मैथिली फ़िल्म अकादमी, दरभंगा से जुड़े सदस्यों ने ‘वाट्सएप समूह वीडियो कॉल ‘ द्वारा हिंदी सिनेमा के दो बड़े दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर और इरफान खान के असामयिक निधन पर भावभीनी श्रद्धांजलि दिया.

Advertisement

रंगमंच एवं फ़िल्म कलाकार हेमेंद्र कुमार लाभ की अध्यक्षता में आयोजित इस श्रद्धांजलि सभा में
सदस्यों ने अपने अपने घरों से विचार रखा.

मैथिली फिल्म के निर्माता- निर्देशक बालकृष्ण झा ने दोनों दिग्गज़ अभिनेता के निधन को कला जगत का सबसे बड़ा नुकसान बताया.

Advertisement

वही डॉ.सत्येन्द्र कुमार झा ने कहा कि इरफान खान और ऋषि कपूर हमारे सिनेमा जगत के धरोहर रहे है.इरफान खान जहां बोलती आंखों एवं उत्कृष्ट शारीरिक- भंगिमा के द्वारा दर्शकों का मन मोह लेते थे, वही ऋषि कपूर प्रेम की नई परिभाषा गढ़कर युवाआें का दिल जीत लेते थे साथ ही वे युवा-प्रेम के आयकॉन थे.आज दोनों के निधन से सम्पूर्ण भारत मर्माहत है.

वही अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में हेमेंद्र कुमार लाभ ने कहा कि कल फिल्म अभिनेता इरफान खान का निधन और आज ऋषि कपूर साहब का निधन कला- जगत के लिए अपूरणीय क्षति है.भारतीय फिल्म उद्योग में अभिनय के क्षेत्र में दो धाराओं के कलाकार आते रहे हैं.

Advertisement

कुछ फिल्मी पारिवारिक पृष्ठभूमि से आते रहे हैं, और कुछ प्रशिक्षण लेकर इस क्षेत्र में आते हैं.दोनों धाराओं के कलाकारों को अपनी प्रतिभा साबित करनी होती है.एक फिल्मी पारिवारिक पृष्ठभूमि से आने के कारण ऋषि कपूर को अभिनय विरासत में मिली थी.बाबी,लैला मजनू , सरगम ,चान्दनी, जैसी कई फिल्मों में यादगार अभिनय किया .मल्टी स्टारर फिल्मों में भी वे उसी शिद्दत के साथ अपना रोल निभाया है.

भारतीय फिल्म उद्योग में लगभग पचास वर्षों तक उनका योगदान रहा है.अभिनय का प्रशिक्षण लेकर फिल्म उद्योग में आये इरफान खान अपने 30-32 साल के सफर में सलाम बाम्बे, स्लमडॉग मिलेनियर ,डाकू पान सिंह तोमर, द लंच बाक्स ,हिंदी मिडियम, आदि फिल्मों में अपने दमदार अभिनय से लोगों का दिल जीता.दोनों अभिनेता ओं को भाव-भीनी श्रद्धांजलि .

Advertisement

लॉक डाउन के बीच आयोजित इस ऑनलाइन सभा में अन्य वक्ताओं ने दोनों ही अभिनेता के व्यक्तित्व कृतित्व के साथ उनके अमिट अभिनय पर चर्चा करते हुए कहा कि वो आज हमारे बीच नहीं है लेकिन सिनेमा जगत के दर्शकों के हृदय में वो सदैव जीवित रहेंगे.

विचारव्यक्त करने वालों में शशि मोहन भारद्वाज, रवि श्री खण्डेलवाल,स्वर्णिम कुमार गुप्ता ,अनिल कुमार मिश्रा,नरेंद्र कुमार मिश्रा, प्रकाश झा,गीता मिश्रा,सुजीत कुमार आदि शामिल थे .आरम्भ में सभी ने दो मिनट का मौन रख उनके चित्र पर पुष्प भी अर्पित किया.

Advertisement

राजू सिंह, बिहार नाउ, दरभंगा

Advertisement

Related posts

रविशंकर प्रसाद ने किया NMCH का औचक निरीक्षण, स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर अधीक्षक से की बात…

Bihar Now

गांधी जयंती के अवसर पर सर्वधर्म प्रार्थना सभा, बच्चों ने की खूबसूरत प्रस्तुति

Bihar Now

RJD नेता अब्दुल बारी सिद्दिकी कोरोना पॉजिटिव, एम्स में कराया गया भर्ती…

Bihar Now